Month: November 2018

सूक्ष्म शिक्षण MICRO TEACHING को समझें

सूक्ष्म-शिक्षण:micro teaching का अर्थ  सूक्ष्म शिक्षण योजना micro teaching के बारे मे आज हम विस्तृत से समझेंगे   सूक्ष्म-शिक्षण का प्रारम्भ सन् 1961 से माना जाता है, लेकिन सर्वप्रथम सूक्ष्म शिक्षण का नामकरण 1963 ईस्वी में डी. एलन (डाॅ. ड्वाइट एलन) ने स्टेनफोर्ड विश्वविद्यालय अमरीका में किया। अमेरिका के स्टेनफार्ड विश्वविद्यालय में राॅबर्ट बुश व डाॅक्टर […]

रीतिबद्ध काव्य धारा सम्पूर्ण

दोस्तो आज हम रीतिकाल की रीतिबद्ध काव्य धारा के बारे मे विस्तृत से जानेगे ताकि हमारा ये टॉपिक अच्छे से क्लियर हो सके रीतिबद्ध काव्य धारा सम्पूर्ण हिन्दी साहित्य  हिंदी साहित्य वीडियो के लिए यहाँ क्लिक करें रीतिबद्ध कवि और रचनाएँ  भूषण  भूषण ( १६१३-१७०५ ) रीतिकाल के तीन प्रमुख कवियों बिहारी , केशव और […]

अव्यय के बारे मे जानें

अव्यय की परिभाषा, भेद और उदाहरण दोस्तो आज हम आपके लिए नया विषय ले कर आए है आज हम जानेगे कि हिन्दी व्याकरण मे अव्यय क्या होता है आज आप अच्छे से अव्यय के बारे मे जान पाएंगे  अव्यय क्या होता है :- अव्यय का शाब्दिक अर्थ होता है – जिन शब्दों के रूप में […]

हिन्दी मुहावरे hindi muhavare

हिन्दी मुहावरे hindi muhavare मुहावरे तथा लोकोक्तियाँ मुहावरा:- मुहावरा बात कहने की एक शैली है। यह अरबी भाषा क ‘मुहावर’ शब्द से बना है, जिसका शाब्दिक अर्थ है- ‘अभ्यास करना’ या ‘बातचीत’ ‘लक्षणा व व्यंजना द्वारा वह सिद्ध वाक्य जो किसी बोली जाने वाली भाषा में प्रचलित हो कर रूढ़ हो गया हो तथा प्रत्यक्ष […]

रामचन्द्र शुक्ल महत्वपूर्ण कथन

आचार्य रामचन्द्र शुक्ल के महत्वपूर्ण कथन ​आचार्य रामचंद्र शुक्ल के रीतिकालीन कवियों के लिए कुछ महत्वपूर्ण कथन- “इनकी भाषा ललित और सानुप्रास होती थी”- चिंतामणि त्रिपाठी के लिए “भाषा चलती होने पर भी अनुप्रासयुक्त होती थी”- बेनी के लिए “इस ग्रंथ को इन्होंने वास्तव में आचार्य के रूप में लिखा है, कवि के रुप में […]

error: कॉपी करना मना है