Net Jrf Hindi december 2019 Modal Test Paper उत्तरमाला सहित

Net Jrf Hindi december 2019 Modal Test Paper

दोस्तो  आपके हिंदी नेट जेआरएफ एग्जाम नजदीक है ,आपने अच्छे से तैयारी कर ली होगी …हमारी वेबसाइट के इसी पेज पर दिनांक 3-12-2019 को रात्रि 9 बजे  सम्पूर्ण कोर्स से एक फाइनल हुआ  ,आपकी तैयारी के  मुल्यांकन के लिए ही हिंदी साहित्य चैनल  द्वारा आपका टेस्ट करवाया गया है ..आप सभी इस टेस्ट के बारे में अपने हिंदी मित्रों को जरुर बताएं ,ताकि सभी टेस्ट को तैयार कर सके ताकि सभी को एग्जाम में इससे कुछ हेल्प मिले  | दोस्तो सबसे पहले तो इस लिंक को ज्यादा से ज्यादा शेयर जरुर करें 

 

NET/JRF December परीक्षा हेतु

टेस्ट – माॅडल पेपर (2019)

प्रश्न संख्या: 100 पूर्णांक: 200

1. ’’हिन्दू मग पर पाँव न राखेउँ,
का जौ बहुतै हिन्दी भाखेउँ’’
यह उक्ति किस रचना और रचनाकार से सम्बन्धित है ?
(अ) नूर मोहम्मद – इन्द्रवती
(ब) उसमान – चित्रावली
(स) नूर मोहम्मद- अनुराग बाँसुरी
(द) कासिमशाह – हंस जवाहिर

2. ’’जब हम प्रीति, उदारता और भलमनसाहत का बरताव करते हैं तब वे यही समझते है कि हम उनसे घृणा कर रहे हैं और हम चाहे उनका जितना ही उपकार करें बदले में हमें अपकार ही मिलेगा।’’ यह कथन किस निबन्ध से लिया गया है-
(अ) घृणा
(ब) प्रीति और लोभ
(स) ईष्र्या तू न गई मेरे मन से
(द) मित्रता

3. निम्न पंक्तियाँ किस प्रसिद्ध लम्बी कविता से उद्धृत है ?
प्रतिपल परिवर्तित व्यूह, भेद कौशल-समूह
राक्षस-विरुद्ध प्रत्यूह, क्रुद्ध कपि विषम
(अ) राम की शक्ति पूजा
(ब) बादल-राग
(स) पेशोला की प्रतिध्वनि
(द) शेर सिंह का शस्त्र-समर्पण

4. ’’प्रिय स्वतंत्र रव अमृत मन्त्र नव’’ पंक्ति वाली कविता का सम्बन्ध है-
(अ) जयंशकर प्रसाद से
(ब) भवानी प्रसाद से
(स) सुमित्रानन्दन पंत से
(द) सूर्यकान्त त्रिपाठी निराला से

5. ’स्त्री विमर्श’ का उद्देश्य है-
(अ) स्त्री अस्मिता की खोज
(ब) पुरुष प्रभुत्व का विरोध
(स) स्त्रियों की रचनाशीलता की परम्परा की पहचान
(द) ये सभी

6. ’’शहर में कोई किसी की जाति नहीं पूछता शहर के लोगों की जाति का क्या ठिकाना है लेकिन गाँव में तो बिना जाति के आपका पानी नहीं चल सकता।’’ यह कथन किस रचना से लिया गया है ?
(अ) परती परिकथा (ब) रतिनाथ की चाची
(स) बलचनामा (द) मैला आँचल

7. ’वोल्गा जारी है’ किसकी रचना है ?
(अ) श्यामसुंदर दास की
(ब) सरदार पूर्णसिंह की
(स) राहुल सांकृत्यायन की
(द) डाॅ. नगेन्द्र की

8. किस विद्वान ने देवनागरी लिपि के स्थान पर रोमन लिपि स्वीकार करने का सुझाव दिया था ?
(अ) सुनीति कुमार चटर्जी
(ब) महात्मा गाँधी
(स) काका कालेलकर
(द) विनोबा भावे

9. भाषा के सम्बन्ध में असत्य कथन कौन-सा है ?
(अ) भाषा सामाजिक सम्पत्ति है
(ब) भाषा परिवर्तनशील है
(स) भाषा अनुकरण सादृश्य है
(द) भाषा पैतृक सम्पत्ति है

10. देवनागरी लिपि का विकास माना जाता है-
(अ) देववाणी से (ब) खरोष्ठी से
(स) ब्राह्मी से (द) सिंधु लिपि से

11. भक्ति काल के किस कवि को ’जङिया’ विशेषण से विभूषित किया जाता है ?
(अ) नन्ददास (ब) परमानन्द दास
(स) सूरदास (द) चतुर्भुज दास

12. इनमें से कौन-सा ग्रंथ केशव का नहीं है ?
(अ) रामचंद्रिका (ब) कवि-प्रिया
(स) विज्ञान-गीता (द) भाषा-भूषण

13. ’रसज्ञ-रंजन’ किस सुप्रसिद्ध निबंधकार की कृति है ?
(अ) आचार्य रामचंद्र शुक्ल
(ब) आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी
(स) बाबू गुलाबराय
(द) आचार्य महावीर प्रसाद द्विवेदी

14. ’’हिन्दी अपने जन्म से ही ब्रजभाषा की प्रवृति के साथ खङी बोली की प्रवृत्ति के लिए आई थी- ब्रजभाषा के हाथ में हाथ दिए खङी बोली उतरी।’’ यह कथन निम्न में से किसका है ?
(अ) भारतेन्दु हरिश्चन्द्र (ब) आचार्य रामचन्द्र शुक्ल
(स) डाॅ. सत्येन्द्र (द) डाॅ. नगेन्द्र

15. हिन्दी साहित्य में निम्नलिखित पंक्तियाँ किसके द्वारा लिखी गई ?
जदपि सुजाति सुलक्षणी सुवर्ण सरस सुवृत्त।
भूषण बिनु न बिराजई, कविता वनिता मित्त।
(अ) कबीरदास (ब) केशवदास
(स) रहीमदास (द) तुलसीदास

16. सही युग्म का चयन कीजिए-
(अ) भगवत शरण उपाध्याय – विलायत यात्रा
(ब) देवेन्द्र सत्यार्थी – तूफानों के बीच
(स) रामवृक्ष बेनीपुरी – हिमालय यात्रा
(द) मोहन राकेश – आखिरी चट्टान तक

17. निरख सखी ये खंजन आये।
फेरे उन मेरे रंजन ने नयन इधर मन भाये।।
इन पंक्तियों में कौन-सा गुण है ?
(अ) ओज गुण (ब) माधुर्य गुण
(स) प्रसाद गुण (द) इनमें से कोई नहीं

18. ’आलपीन’ और ’गमला’ किस विदेशी भाषा के शब्द है ?
(अ) फ्रेंच (ब) पुर्तगाली
(स) अंग्रेजी (द) जापानी

19. सूची-। का मिलान सूची-।। से कीजिए और दिये गये कूट से सही उत्तर का चयन कीजिए-
सूची-।  (इतिहासकार)          सूची-।। (नामकरण)
(क) आचार्य रामचन्द्र शुक्ल    1. प्रारम्भिक काल
(ख) डाॅ. हजारी प्रसाद द्विवेदी 2. वीरगाथा काल
(ग) राहुल सांकृत्यायन           3. सिद्ध सामन्त काल
(घ) मिश्र बन्धु                        4. आदि काल
कूट
⇒   क ख ग घ
(अ) 1 2 3 4
(ब) 4 3 2 1
(स) 3 1 2 4
(द) 2 4 3 1

20. ’केशव! कहि न जाइ का कहिये’- यह पंक्ति किस रचनाकार की है ?
(अ) कबीर (ब) रहीम
(स) केशव (द) तुलसी

21. निम्नलिखित में से कौन-सा कथन असत्य है ?
(अ) रीतिबद्ध धारा के कवियों ने लक्षण ग्रन्थों की रचना की है।
(ब) रीतिबद्ध धारा के कवियों को आचार्य कवि कहा जाता है।
(स) बिहारी रीतिसिद्ध धारा के प्रतिनिधि कवि है।
(द) केशव रीतिमुक्त धारा के कवि है।

22. काव्य प्रयोजन के सन्दर्भ में कौन-सा कथन असत्य है ?
(अ) काव्य प्रयोजन से तात्पर्य काव्य रचना के उद्देश्य से होता है
(ब) काव्य रचना में रचनाकार का कोई उद्देश्य निहित नहीं होता है
(स) भरतमुनि ने धर्म, यश, आयु का साधक, हितकारक आदि को काव्य प्रयोजन माना
(द) काव्य प्रयोजन का मुख्य उद्देश्य धर्मार्थ, काम व मोक्ष की प्राप्ति रहा है

23. भट्टनायक के अनुसार, रस न तो प्रतीत होता है, न उत्पन्न होता है और न ही अभिव्यक्त होता है। भट्टनायक के रस सूत्र सम्बन्धी मत को क्या कहा जाता है ?
(अ) अभिव्यक्तिवाद (ब) उत्पत्तिवाद
(स) भोगवाद (द) अनुमितिवाद

24. ’काव्य गुण’ के सन्दर्भ में निम्न में से कौन-सा कथन असत्य है ?
(अ) दोषों का विपर्यय ही गुण होते हैं
(ब) भरतमुनि ने अपने ग्रन्थ में तीन काव्य गुणों की चर्चा की है
(स) गुण तीन होते हैं- माधुर्य, ओज तथा प्रसाद
(द) गुण को चित्तवृति का पर्याय भी माना जाता है

25. ’’नैसर्गिकी च प्रतिभा श्रुतं च बहु निर्मलम्।
आनन्दाश्चयाभियोगो अस्याः कारणं काव्य सम्पदा।।’’
काव्य हेतु के सन्दर्भ में यह मत किसने दिया ?
(अ) आचार्य रुद्रट (ब) आचार्य वामन
(स) आचार्य दण्डी (द) आचार्य कुन्तक

26. साधारणीकरण के विषय में कौन-सा कथन सही
है ?
(क) साधारणीकरण रसास्वाद के बाद की प्रक्रिया है।
(ख) साधारणीकरण आलम्बनत्व धर्म का होता है।
(ग) साधारणीकरण के लिए भोजकत्व व्यापार अनिवार्य है।
(घ) साधारणीकरण के बिना भी रसानुभूति सम्भव है।
कूटः
(अ) क और ख (ब) क और ग
(स) ख और ग (द) ग और घ

27. रचनाकाल के अनुसार निम्नलिखित आचार्यों का सही अनुक्रम है-
(अ) हेमचन्द्र, शंकुक, भोजराज, शारदातनय
(ब) शंकुक, हेमचन्द्र, भोजराज, शारदातनय
(स) शारदातनय, भोजराज, हेमचन्द्र, शंकुक
(द) भोजराज, शंकुक, हेमचन्द्र, शारदातनय

28. स्थापना (क) रस ज्ञान द्वारा ग्राह्य होता है।
तर्क (ख) क्योंकि हृदय की अनुभूति के साथ उसकी बौद्धिक सत्ता भी होती है।
कूटः
(अ) क गलत, ख सही (ब) क सही, ख गलत
(स) क गलत, ख गलत (द) क सही, ख सही

29. रचनाकाल के आधार पर निम्नलिखित ग्रन्थों का सही अनुक्रम है-
(अ) ध्वन्यालोक, काव्यमीमांसा, काव्यदर्श, साहित्य दर्पण
(ब) काव्यादर्श, ध्वन्यालोक, काव्यमीमांसा, साहित्य दर्पण
(स) काव्यादर्श, काव्यमीमांसा, ध्वन्यालोक, साहित्य दर्पण
(द) ध्वन्यालोक, काव्यादर्श, साहित्य दर्पण, काव्यमीमांसा

30. स्थापना (क) मनुष्य की रागात्मक प्रवृत्ति उसे सामाजिक बन्धनों से मुक्त होने के लिए प्रेरित करती है।
तर्क (ख) क्योंकि समाज मनुष्य की रागात्मकता को स्वीकार नहीं करता।
कूटः
(अ) क सही, ख गलत (ब) क सही, ख सही
(स) क गलत, ख सही (द) क गलत, ख गलत

31. विसंगत अनुक्रम छाँटिए-
(अ) शंृगार तिलक – रुछभट्ट
(ब) उज्ज्वलनीलमणि – रूपगोस्वामी
(स) काव्यादर्श – दण्डी
(द) कुवलयानंद – अभिनवगुप्त

32. ’बायोग्राफिया लिटरेरिया’ के रचनाकार है ?
(अ) वर्ड्सवर्थ (ब) इलियट
(स) काॅलरिज (द) रिचर्ड्स

33. त्रासदी का अंग नहीं है-
(अ) चरित्र (ब) कथानक
(स) मंगलाचरण (द) विचार

34. क्रोचे के ’अभिव्यंजना सिद्धांत’ को किस भारतीय आचार्य के सिद्धांत से जोङा जाता है ?
(अ) वामन (ब) कुंतक
(स) क्षेमेन्द्र (द) मम्मट

35. ’एस्थेटिक’ पुस्तक के रचयिता हैं –
(अ) काॅलरिज (ब) क्रोेचे
(स) रिचर्ड्स (द) इलियट

36. निम्न में कौन बिंबवादी लेखक नहीं है ?
(अ) टी. ई. ह्यूम (ब) एजरा पाउंड
(स) आलइगंटन (द) राॅबर्ट पेन

37. उत्तर-आधुनिकतावादी चिंतक नहीं है-
(अ) फ्रांसुआ ल्योताट (ब) फ्रेडरिक जेमेसन
(स) बौद्रिआ (द) एफ. आर. लीविस

38. कल्पना सिद्धांत के प्रवर्तक है-
(अ) आई. एस. रिचर्ड्स (ब) बेनेदितो क्रोचे
(स) सेमुअल काॅलरिज (द) जाॅन ड्राइडन

39. ’गोबर’ प्रेमचन्द के किस उपन्यास का पात्र है ?
(अ) प्रेमाश्रय (ब) गबन
(स) गोदान (द) निर्मला

40. निम्नलिखित में से किस कृति के लेखक रामविलास शर्मा है ?
(अ) हिन्दी के विकास में अपभ्रंश का योगदान
(ब) दूसरी परम्परा की खोज
(स) छायावाद
(द) भाषा और समाज

41. ’मेरी जीवन यात्रा’ किसकी आत्मकथा है ?
(अ) हजारी प्रसाद द्विवेदी
(ब) महावीर प्रसाद द्विवेदी
(स) राहुल सांकृत्यायन
(द) इनमें से कोई नहीं

42. ’जिन्दगी नामा’ किसकी रचना है ?
(अ) मन्नू भण्डारी (ब) मृदुलागर्ग
(स) कृष्णा सोबती (द) प्रियंवदा

43. ’’आलोचना को भाषायी रीतिबद्धता से उन्होंने वैसे ही मुक्त किया है, जैसे निराला ने कविता को छन्दों के बन्धन से।’’ उपर्युक्त कथन किसके सम्बन्ध में है-
(अ) डाॅ. नामवर सिंह (ब) डाॅ. रामविलास शर्मा
(स) डाॅ. नगेन्द्र (द) रामचन्द्र शुक्ल

44. ’बाणभट्ट की आत्मकथा’ किसकी औपन्यासिक कृति है ?
(अ) महावीर प्रसाद द्विवेदी
(ब) हजारी प्रसाद द्विवेदी
(स) रामचन्द्र शुक्ल
(द) डाॅ. नगेन्द्र

45. ’मनीषी की लोकयात्रा’ किसकी जीवनी है ?
(अ) प्रेमचन्द की (ब) निराला की
(स) कविनाथ गोपीराज (द) शरतचन्द्र की

46. ’लोहे की दीवार के दोनों ओर’ किसकी कृति है ?
(अ) अज्ञेय (ब) सत्यदेव परिव्राजक
(स) यशपाल (द) राहुल सांकृत्यायन

47. ’मेरे राम का मुकुट भीग रहा है’ किसका ललित निबन्ध-संग्रह है ?
(अ) रामवृक्ष बेनीपुरी (ब) कुबेरनाथ
(स) विद्यानिवास मिश्र (द) हरिशंकर परसाई

48. ’कुट्टिचाटन’ के उपन्यास के उपनाम से किसके व्यक्तिपरक निबन्ध छपे हैं ?
(अ) मुक्तिबोध (ब) अज्ञेय
(स) नेमिचन्द्र जैन (द) भारत भूषण अग्रवाल

49. ’आचरण की सभ्यता’ निबन्ध के लेखक है ?
(अ) चन्द्रधर शर्मा गुलेरी (ब) अध्यापक पूर्ण सिंह
(स) श्यामसुन्दर दास (द) बाल मुकुन्द गुप्त

50. ’मोचीराम’ तथा ’पटकथा’ के लेखक है ?
(अ) चन्द्रकान्त देवताले (ब) धूमिल
(स) बलदेव वंशी (द) इनमें से कोई नहीं

51. धनिया और झुनिया प्रेमचंद के किस उपन्यास के पात्र है ?
(अ) गबन (ब) गोदान
(स) कर्मभूमि (द) प्रेमाश्रय

52. ’अनामदास का पोथा’ शीर्षक उपन्यास के लेखक है-
(अ) वृंदावनलाल वर्मा (ब) भगवतीचरण वर्मा
(स) अमृतलाल नागर (द) हजारी प्रसाद द्विवेदी

53. हिन्दी साहित्य में सरदार पूर्ण सिंह की ख्याति किस रूप में है ?
(अ) एक आलोचक के रूप में
(ब) एक नाटककार के रूप में
(स) एक निबंधकार के रूप में
(द) एक व्यंग्यकार के रूप में

54. निम्नलिखित में से कौन-सा निबंधकार ललित निबंधकार नहीं है ?
(अ) रामविलास शर्मा (ब) कुबेरनाथ राय
(स) विद्यानिवास मिश्र (द) हजारी प्रसाद द्विवेदी

55. ’’साहित्य मनुष्य के अंतर का उच्छलित आनन्द है।’’ यह कथन किसका है ?
(अ) आचार्य नन्ददुलारे वाजपेयी
(ब) आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी
(स) डाॅ. नगेन्द
(द) आचार्य रामचन्द्र शुक्ल

56. आचार्य शुक्ल का निबन्ध संग्रह ’चिन्तामणि’ सर्वप्रथम किस नाम से प्रकाशित हुआ ?
(अ) विचार-कौस्तुभ (ब) विचार-मणि
(स) विचार-बैन (द) विचार-वीथी

57. ’तीसरी कसम’ फिल्म किस लेखक की कहानी पर बनाई गई थी ?
(अ) प्रेमचंद (ब) फणीश्वर नाथ रेणु
(स) चंद्रधर शर्मा गुलेरी (द) जैनेन्द्र कुमार

58. प्रेमचंद की अंतिम कहानी थी-
(अ) ईदगाह (ब) कफन
(स) ठाकुर का कुआँ (द) बङे घर की बेटी

59. ’’कबीर का गर्व और दैन्य, दोनों मनुष्य को उसकी परमात्मिकता की अनुभूति कराने वाले है।’’- यह कथन है-
(अ) पंडित हजारी प्रसाद द्विवेदी का
(ब) डाॅ. माता प्रसाद गुप्त का
(स) आचार्य रामचन्द्र शुक्ल का
(द) बाबू श्यामसुन्दर दास का

60. ’’मेरी समझ से तो मेरे शरीर की धातु मिट्टी हैं। जो किसी के लोभ की सामग्री नहीं और वास्तव में उसी के लिए सब धातु अस्त्र बनाकर चलते हैं, लङते हैं, टूटते हैं, फिर मिट्टी होते हैं।’’ यह हिन्दी के किस नाटक में आया हुआ संवाद है ?
(अ) भारत दुर्दशा (ब) अन्धेरनगरी
(स) चन्द्रगुप्त (द) स्कन्दगुप्त

61. ’’भारत-दुर्दशा नाटक की रचना करने के पीछे भारतेन्दु जी का उद्देश्य था-
(अ) भारतवर्ष की कथित दुर्दशा का खण्डन करना।
(ब) अंग्रेजी-शासन की व्याजस्तुति करना।
(स) भारतीय नागरिकों को अन्याय के विरूद्ध खङे होने के लिये प्रोत्साहित करना।
(द) अन्यान्य देशों की दुर्दशा से तुलना करके दिखलाना कि भारतवर्ष औरों से कितना बेहतर है।

62. ’’मैला आँचल’’ की भाषा परिनिष्ठित हिन्दी के व्याकरण की कसौटी पर जगह-जगह खरी नहीं उतरती, फिर भी अपने जमाने की यह अत्यन्त लोकप्रिय रचना सिद्ध हुई। इसका कारण यह है कि-
(अ) इसमें ग्रामीण और शहरी, दोनों ही प्रकार के दृश्यों की भरमार है।
(ब) परिवेश और पात्रों के अनुरूप यथार्थपरक भाषा का प्रयोग हुआ है।
(स) लोक-कथाओं, लोकोक्तियाँ, मुहावरों और लोकगीतों से परहेज किया गया है।
(द) इसमें व्याकरणजन्य त्रुटियाँ नहीं है।

63. ’’बावन ने दो आजाद देशों की हिन्दुस्तान और पाकिस्तान की ईमानदारी को, इन्सानियत को, बस दो डग में नाप लिया।’’ यह कथन है-
(अ) सुमिरत दास का
(ब) पाकिस्तानी सीमा रक्षक सिपाही का
(स) फणीश्वरनाथ रेणु का (द) डाॅ. प्रशान्त का

64. प्रेमचन्द जी की किस कहानी में बाल-चरित्र का अनोखा वर्णन है ?
(अ) शतंरज के खिलाङी (ब) कफन
(स) सभ्रूता का रहस्य (द) ईदगाह

65. ’’भरि रही भनक बनक ताल तालन की।
तनक-तनक तामें खनक चुरीन की।’’ यह किस कवि के छन्द की पंक्तियाँ है ?
(अ) रत्नाकर (ब) पद्माकर
(स) देव (द) द्विजदेव

66. ’हिमकिरीटनी’ के रचयिता है ?
(अ) माखनलाल चतुर्वेदी (ब) भवानीशंकर मिश्र
(स) रनेन्द्र शर्मा (द) मैथिलीशरण गुप्त

67. ’अमिय हलाहल मद भरे सेत स्याम रतनार’ किस कवि की पंक्ति है ?
(अ) बिहारी (ब) केशव
(स) रसलीन (द) मतिराम

68. निम्नलिखित में से कौन-सी विशेषता नई कविता की नहीं है ?
(अ) क्षणवादिता (ब) बौद्धिकता
(स) अतिशय वैयक्तिकता (द) माक्र्सवादी दर्शन

69. भरतमुनि के ’रससूत्र’ की अनुमितिवाद पर आधृत व्याख्या किस आचार्य की है ?
(अ) अभिनवगुप्त (ब) भट्टनायक
(स) भट्टलोल्लट (द) शंकुक

70. निम्नलिखित कवियों को उनके जीवनकालनुसार आरोही क्रम में व्यवस्थित कीजिए-
(अ) केशव, सेनापति, देव, पद्माकर
(ब) सेनापति, पद्माकर, देव, केशव
(स) देव, केशव, पद्माकर, सेनापति
(द) केशव, देव, सेनापति, पद्माकर

71. स्थापना (क)ः प्रगतिवाद सामूहिकता, वर्ग-संघर्ष और सर्वहारा की विजय को लेकर चला।
तर्क (ख)ः क्योंकि वह माक्र्सवाद पर आधारित था।
कूटः
(अ) क सही ख गलत है
(ब) क और ख दोनों सही है
(स) क और ख दोनों गलत है
(द) क गलत ख सही है

72. रामचरितमानस के ’उत्तरकाण्ड’ के सम्बन्ध में असत्य कथन का चयन कीजिए-
(अ) इसमें राम के लोकाश्रयी आनन्द का चित्रण है
(ब) यह कवि की कालजयी रचना का समापान बिन्दु है
(स) इसमें शैव एवं वैष्णव मतों का समन्वय दृष्टिगत होता है
(द) इस काण्ड में कवि ने युगीन समस्याओं का उचित तथा सर्वग्राही समाधान दिया है

73. असत्य कथन को चिन्हित कीजिएः
(अ) ’श्रद्धा’ कामायनी का तीसरा सर्ग है
(ब) ’राम की शक्तिपूजा’ रामकथा से सम्बन्धित रचना है
(स) ’कुकुरमुत्ता’ में छायावादी शब्दावली का निषेध
(द) ’अँधेरे में’ कविता ’चाँद का मुँह टेढ़ा है’ में संकलित नहीं है

74. ’खुसरो का लक्ष्य जनता का मनोरंजन था, पर कबीर धर्माेपदेशक थे’ यह उक्ति किसकी है ?
(अ) डाॅ. नगेन्द्र
(ब) आचार्य रामचन्द्र शुक्ल
(स) आचार्य हजारी द्विवेदी
(द) डाॅ. रामकुमार वर्मा

75. सुमेलित कीजिए-
सूची-।           सूची-।।
(क) पेरिइप्युस      1. प्लेटो
(ख) पोइटिक्स      2. क्रोेचे
(ग) एसथेटिक्स    3. लोंजाइनस
(घ) इओन           4. अरस्तू
कूटः
⇒   क ख ग घ
(अ) 4 3 1 2
(ब) 2 1 4 3
(स) 4 3 2 1
(द) 3 2 1 4

76. क्रोचे के अभिव्यंजनावाद का सम्बन्ध वक्रोक्ति सिद्धान्त के साथ मानने वाले विद्वान है ?
(अ) आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी
(ब) डाॅ. नगेन्द्र
(स) डाॅ. रामविलास शर्मा
(द) आचार्य रामचन्द्र शुक्ल

77. हिन्दी नवजागरण को ’मूलतः बुद्धिवादी और रहस्यवादी विरोधी’ कहने वाले विद्वान है ?
(अ) डाॅ. रामविलास शर्मा (ब) महावीरप्रसाद द्विवेदी
(स) डाॅ. नामवर सिंह (द) रामचन्द्र शुक्ल

78. ’अन्धा युग’ उद्धृत प्रस्तुत कथन किस पात्र का है ? ’मेरी ममता की वहाँ नीति थी, मर्यादा थी।’
(अ) गान्धारी (ब) अश्वत्थामा
(स) धृतराष्ट्र (द) संजय

79. आचार्य शुक्ल का कौन-सा निबन्ध व्यावहारिक समीक्षा सम्बन्धी नहीं है ?
(अ) भारतेन्दु हरिश्चन्द्र (ब) काव्य में अभिव्यंजनावाद
(स) मानस की धर्मभूमि (द) तुलसी का भक्तिमार्ग

80. अधोलिखित आचार्यों का उनके कालक्रमानुसार आरोही क्रम है –
(अ) दण्डी, वामन, मम्मट, विश्वनाथ, जगन्नाथ
(ब) दण्डी, मम्मट, वामन, जगन्नाथ, विश्वनाथ
(स) वामन, दण्डी, मम्मट, विश्वनाथ, जगन्नाथ
(द) दण्डी, वामन, मम्मट, जगन्नाथ, विश्वनाथ

81. घन आनन्द जीवन मूल सुजान की कौंधन हू न कहूँ दरसै।
सु न जानिए धौं कित छाय रहे दृग चातक प्रान तपै तरसै।।
बिन पावस तौ न थ्यावस हो न सु क्यों करि ये अब सौ परसैं।
बदरा बरसैं रितु में घिरि कै नितही अँखियाँ उघरी बरसैं।।
घनानन्द कहना चाहते हैं कि –
क. सुजान रूपी बादल न जाने कहाँ छिप गए हैं।
ख. चातक अपनी प्यास बुझाने के लिए वर्षा के जल की प्रतीक्षा करता है।
ग. प्राणरूपी चातक उनके विरह मे व्याकुल हो रहे हैं।
घ. सुजान के प्रेम रूपी वर्षा न होने के कारण प्रकृति दुखी है।
कूटः
(अ) क, ख और ग (ब) ख, ग और घ
(स) ग और घ (द) क और ग

82. गांधीवादी जीवन के मूल्य है-
क. धर्म का पालन ख. आत्मबल
ग. आध्यात्मिक विघटन घ. मानवता और नैतिकता
कूटः
(अ) क और ख (ब) क और घ
(स) क, ख और घ (द) क, ख और ग

83. बिहारी की काव्यागत विशेषताएँ हैं-
क. बिहारी ने अपने छोटे से छन्द में गागर में सागर भरा है।
ख. बिहारी के शंृगारिक काव्य के प्राण तत्त्व प्रेम व सौन्दर्य है।
ग. शारीरिक चेष्टाओं और हाव-भावों को पढने के मनोविज्ञान में बिहारी सिद्धहस्त है।
घ. बिहारी को उनकी अलंकार प्रियता के कारण ’कठिन काव्य का प्रेत’ कहा जाता है।
कूटः
(अ) क, ख और घ (ब) ख और घ
(स) क, ग और घ (द) क, ख और ग

84. स्थापना (क) संस्मरण और रेखाचित्रों में महादेवी जी ने सर्वत्र प्रांजल भाषा, कवित्वपूर्ण शैली का प्रयोग किया है। संस्कृत गर्भित भाषा के बीच-बीच में ग्रामीण बोलचाल के शब्द और मुहावरे भी स्वाभाविक रूप से प्रयुक्त हैं।
तर्क (ख) महादेवी जी के रेखाचित्रों में ग्रामीण जीवन के दीन-हीन उपेक्षित पात्र-घीसा, मुन्नू की माई, बिबिया आदि का मार्मिक चित्रण किया गया है। उनके पात्र मानवीय गुणों के प्रतीक बन गए हैं।
उक्त कथनों के आलोक में निम्न में सही कथन का चयन कीजिए-
(अ) क सही, ख गलत है
(ब) क गलत, ख सही है
(स) क और ख दोनों सही है
(द) क और ख दोनों गलत है

85. स्थापना (क) भारतेन्दु के नाटकों में सुधारवादी दृष्टिकोण के साथ-साथ राष्ट्रीय चेतना की अभिव्यक्ति हुई है। उन्होंने तत्कालीन समस्याओं को जनता तक पहुँचाने में सार्थक कार्य किया।
तर्क (ख) भारतेन्दु जी के नाटक जनकल्याण की भावना से ओत-प्रोत हैं।
कूटः
(अ) क और ख दोनों सही है
(ब) क सही, ख गलत है
(स) क गलत, ख सही है
(द) क और ख दोनों गलत है

86. ’सिक्का बदल गया’ कहानी के सन्दर्भ में कौन-सा कथन सही नहीं है ?
(अ) यह कहानी विभाजन की पृष्ठभूमि पर लिखी गई
(ब) इसमें मानवीय सम्बन्धों और मूल्यांे पर आए विघटन का वर्णन हुआ है
(स) कहानी में लोगों की स्वार्थपरक नीति तथा हृदयहीनता को दर्शाने का प्रयास किया गया है
(द) यह कहानी फैन्टेसी शैली पर आधारित है

87. ’’गोरखनाथ ने नाथ सम्प्रदाय को जिस आन्दोलन का रूप दिया, वह भारतीय मनोवृत्ति के सर्वथा अनुकूल सिद्ध हुआ है।’’ यह कथन किसका है ?
(अ) नलिन विलोचन शर्मा
(ब) गणपति चन्द्रगुप्त
(स) आचार्य रामचन्द्र शुक्ल
(द) डाॅ. रामकुमार वर्मा

88. ’धरती धन न अपना’ उपन्यास में किसको चित्रित किया गया है ?
(अ) चमार जाति के शोषण की त्रासदी को
(ब) सम्पन्नता की स्थिति को
(स) गरीबों को
(द) उपरोक्त में से कोई नहीं

89. प्रवासी हिन्दी साहित्य के सम्बन्ध में कौन-सा विचार सत्य है ?
क. यह हिन्दी साहित्य में जुङती एक नवीन विद्या एवं चेतना है।
ख. यह प्रवासियों के मनोविज्ञान से जुङी है।
ग. यह एक नई अन्तर्दृष्टि भी है।
घ. यह प्रवास की संस्कृति, संस्कार एवं उस भू-भाग से जुङे लोगों की स्थिति से अवगत करती है।
कूटः
(अ) क, ख, ग और घ (ब) ग और घ
(स) ख और ग (द) क, ख और ग

90. ’आँसू’ के कला पक्ष की विशेषताएँ हैं-
क. आँसू एक श्रेष्ठ गीतिकाव्य है।
ख. कवि ने सौन्दर्य में अप्रस्तुत विधान का प्रयोग किया है।
ग. आँसू की रचना आनन्द छन्द में हुई है।
घ. आँसू भौतिक प्रेम की अभिव्यक्ति है।
कूटः
(अ) क, ख और ग (ब) ख, ग और घ
(स) ग और घ (द) ख और ग

91. उपन्यासों के सम्बन्ध में कौन-सा कथन सत्य है ?
क. आँचलिक उपन्यास का उद्देश्य अँचल विशेष की कथा प्रस्तुत करना है।
ख. आँचलिक उपन्यासों के लिखे जाने की परम्परा स्वतन्त्रता के पश्चात् शुरू हुई।
ग. ’मैला आँचल’ एक आँचलिक उपन्यास है।
घ. ’परती परिकथा’ रेणु जी का उपन्यास है।
कूटः
(अ) केवल क (ब) क और ख
(स) क, ख और ग (द) ये सभी

92. द्विवेदीयुगीन रचनाओं का प्रकाशन वर्ष के अनुसार सही अनुक्रम है
(अ) साकेत, यशोधरा, जयभारत, द्वापर
(ब) साकेत, जयभारत, द्वापर, यशोधरा
(स) साकेत, यशोधरा, द्वापर, जयभारत
(द) साकेत, द्वापर, यशोधरा, जयभारत

93. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः
क. ’शेखरः एक जीवनी’ उपन्यास में स्वाधीनता पूर्व की परिस्थितियों का परिचय मिलता है।
ख. अज्ञेय ने अंहभाव, भय तथा काम भावना का चित्रण उपन्यास में किया है।
ग. इस उपन्यास की भाषा सांस्कृतनिष्ठ तथा क्लिष्ट है।
घ. अज्ञेय ने इस उपन्यास में पात्रों के चरित्रांकन में कल्पना का सहारा लिया है।
उपरोक्त कथनों में से असत्य कथन कौन-से है ?
(अ) क, ग और घ (ब) क, ख और ग
(स) ग और घ (द) क और ग

94. स्थापना (क) आपहुदरी आत्मकथा में रमणिका गुप्ता ने जैसा अपना जीवन जिया है वैसा ही लिखा है।
तर्क (ख) रमणिका गुप्ता ने आपहुदरी आत्मकथा के माध्यम से अपने साहस की कथा कही है।
कूट में दिए गए विकल्पों में से सही विकल्प का चयन कीजिए।
कूटः
(अ) क और ख दोनों सही है
(ब) क सही, ख गलत है
(स) क गलत, ख सही है
(द) क और ख गलत है

95. स्थापना (क) फैन्टेसी मनोविज्ञान का शब्द है। इसका सम्बन्ध स्वप्न और अवेचतन मन में घटित होने वाली घटनाओं की विघटित और बेतरतीब बिम्बावलियों से है।
तर्क (ख) साहित्य अथवा काव्य में यह एक तकनीक के रूप में प्रयुक्त होता है।
कूट में दिए गए विकल्पों में से सही विकल्प का चयन कीजिए।
कूटः
(अ) क और ख दोनों सही है
(ब) क सही, ख गलत है
(स) क गलत, ख सही है
(द) क और ख गलत है

96. स्थापना (क) औचित्य का विवेक है, जो भले-बुरे का ज्ञान देता है, वस्तुओंके उचित सौन्दर्य करे दर्शाता है।
तर्क (ख) औचित्य सिद्धांत की परम्परा का अनुकरण, भरतमुनि, आनन्दवर्द्धन इत्यादि सभी ने किया है, किन्तु काव्यात्मा के रूप में प्रतिष्ठित आचार्य क्षेमेन्द्र ने किया है।
कूट में दिए गए विकल्पों में से सही विकल्प का चयन कीजिए।
कूटः
(अ) क और ख दोनों सही है
(ब) क सही, ख गलत है
(स) क गलत, ख सही है
(द) क और ख गलत है

97. ’’सच्चा शैव वही हो सकता है, जो वैष्णव मात्र को अपना देवता समझे इससे शैवों और शक्तियों के साथ विरोध अयोग्य है, हमारी समझ में तो आस्तिक मात्र को ही किसी से द्वेष बुद्धि रखना पाप है, क्योंकि सब हमारे जगदीश की ही प्रजा हैं, सब हमारे खुदा के ही बन्दे हैं, इसी नाते सभी हमारे आत्मीय बन्धु हैं’’ ये पंक्तियाँ किस निबन्ध में कही गई हैं ?
(अ) शिवमूर्ति (ब) काल चक्र
(स) सच्ची वीरता (द) समाज और साहित्य

98. ’’कविता वह साधन है, जिसके द्वारा शेष सृष्टि के साथ मनुष्य के रागात्मक सम्बन्ध की रक्षा और निर्वाह होता है।’’ यह कथन किस निबन्ध से उद्धृत है ?
(अ) काव्य में रहस्यवाद (ब) कविता क्या है
(स) लोभ व प्रीति (द) भक्ति और ग्लानि

99. ’’निस्सन्देह उस युग में भट्ट जी जैसा वाणी का धनी, भाषा का पारखी, समसामयिक विचारों का चितेरा तथा अभिव्यक्ति का कुशल पण्डित और कोई दूसरा निबन्धकार नहीं था।’’ यह कथन किसका है ?
(अ) डाॅ. द्वारिका प्रसाद सक्सेना
(ब) विद्यानिवास मिश्र
(स) कन्हैयालाल मिश्र प्रभाकर
(द) प्रभाकर माचवे

100. ’अज्ञेय’ जी के यात्रा वृत्तान्त ’अरे यायावर रहेगा याद’ के विषय में असत्य कथन का चयन कीजिए-
(अ) यात्रा वृत्तान्त की भाषा संस्कृतनिष्ठ है।
(ब) यात्रा वृत्तान्त की शैली कहानीमय है।
(स) इसमें पाँच यात्रा वृत्तान्तों का वर्णन है।
(द) इसमें तमिलनाडु के अति प्राचीन मन्दिरों के बारे में भी बताया गया है।

 

 

नया ऑनलाइन चार्जेबल  whatsapp ग्रुप NET/JRF हिंदी  10 december 2019 से……..

wh.no.9929735474……आज ही रजिस्ट्रेशन करवाएं 

टाइप  करें  REG 2020 और भेजें whatsapp..9929735474

 

उत्तरमाला
1 स
2 अ
3 अ
4 द
5 द
6 द
7 स
8 अ
9 द
10 स
11 अ
12 द
13 द
14 ब
15 ब
16 द
17 ब
18 ब
19 द
20 द
21 द
22 ब
23 स
24 ब
25 स
26 स
27 ब
28 स
29 ब
30 अ
31 द
32 स
33 स
34 ब
35 ब
36 द
37 द
38 स
39 स
40 द
41 स
42 स
43 ब
44 ब
45 स
46 स
47 स
48 ब
49 ब
50 ब
51 ब
52 द
53 स
54 अ
55 ब
56 द
57 ब
58 ब
59 अ
60 द
61 स
62 ब
63 स
64 द
65 स
66 अ
67 स
68 द
69 द
70 अ
71 ब
72 ब
73 द
74 ब
75 स
76 द
77 अ
78 स
79 ब
80 अ
81 द
82 स
83 द
84 स
85 अ
86 द
87 स
88 अ
89 द
90 द
91 ब
92 स
93 द
94 अ
95 अ
96 अ
97 अ
98 ब
99 अ
100 स

 

 

 

30 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *