Tag: साहित्य

हिन्दी रेखाचित्र

अंग्रेजी में ’स्केच का हिन्दी पर्याय ’रेखाचित्र’ है। ’स्केच’ की ही तरह ’रेखाचित्र’ में भी कम से कम शब्दों में कलात्मक ढंग से किसी वस्तु, व्यक्ति या दृश्य का अंकन किया जाता है। इसमे साधन शब्द होते है, रेखाएँ नहीं। इसीलिए इसे ’शब्दचित्र’ भी कहते हैं। ’रेखाचित्र’ यद्यपि एक नवीन साहित्यिक विधा के रूप में

प्रयोगवाद महत्त्वपूर्ण तथ्य

प्रयोगवाद महत्त्वपूर्ण तथ्य 🔷साम्यवाद व मार्क्सवाद दृष्टि से ओतप्रोत साहित्य धारा प्रगतिवाद के पश्चात हिंदी साहित्य में प्रयोगवाद का उदय हुआ । 🔷 छायावादोत्तर काल की वह काव्य धारा जिसमें काव्य के क्षेत्र में नए-नए प्रयोग किए गए प्रयोगवाद के नाम से जानी जाती है । 🔷 सच्चिदानंद हीरानंद वात्सायन अज्ञेय को प्रयोगवाद का प्रवर्तक

आदिकाल साहित्य सम्पूर्ण

आदिकाल साहित्य सम्पूर्ण हिंदी साहित्य वीडियो के लिए यहाँ क्लिक करें हिन्दी साहित्य का इतिहास(आदिकाल) 🌹… *आदिकाल का नामकरण*…..🌹 विभिन्न इतिहासकारों द्वारा आदिकाल का नामकरण निम्नानुसार किया गया- *इतिहासकार का नाम – नामकरण* 👉हजारी प्रसाद द्विवेदी -आदिकाल 👉रामचंद्र शुक्ल -वीरगाथा काल 👉महावीर प्रसाद दिवेदी -बीजवपन काल 👉रामकुमार वर्मा- संधि काल और चारण काल 👉राहुल संकृत्यायन-
error: कॉपी करना मना है