हिंदी में व्यास सम्मान

📖📖व्यास सम्मान
#स्थापना- 1991 में के. के. बिड़ला फाउंडेशन ने प्रारंभ किया था।
-भारतीय साहित्य में किये गये योगदान के लिए दिया जाने वाला ज्ञानपीठ पुरस्कार के बाद दूसरा सबसे बड़ा साहित्य-सम्मान है।
*पहला व्यास सम्मान वर्ष 1991 में रामविलास शर्मा की कृति ‘भारत के प्राचीन भाषा परिवार और हिन्दी’ के लिए

⚛ व्यास सम्मान से अलंकृत साहित्यकार⏳
वर्ष – कृति -साहित्यकार

. ‘भारतीय ज्ञानपीठ पुरस्कार’

*1. #सुमित्रानंदन पंत ― ‘चिदंबरा’ 1968 ईस्वी – #चौथा
#2. #रामधारी सिंह दिनकर ― ‘उर्वशी’ 1972 ईस्वी – 8 वाँ
*3. #अज्ञेय ― “कितनी नावों में कितनी बार” 1978 ईस्वी – 14 वाँ
#4. #महादेवी वर्मा ― ‘यामा’ 1982 ईस्वी – 18 वाँ
—————————————————-
#नोट:- 1984 के बाद संपूर्ण कृतित्व के लिए यह पुरस्कार प्रदान किया जाने लगा |
5. नरेश मेहता 1992 ईस्वी – 28 वाँ
6. निर्मल वर्मा 1999 ईस्वी – 35 वाँ
7. कुंवर नारायण 2005 ईस्वी – 41 वाँ
#नोट :- इन्हें 7 लाख ₹,प्रशस्ति पत्र व देवी की कांस्य प्रतिमा प्रदान की गई ।
☆ यह 7 लाख ₹ पुरस्कार राशि प्राप्त करने वाली प्रथम साहित्यकार हैं ।
8. अमरकांत काम 2009 ईस्वी – 45 वाँ
9. * श्रीलाल शुक्ल 2009 ईस्वी – 45 वाँ
10. केदारनाथ सिंह। 2013 ईस्वी – 49 वाँ
11.कृष्णा सोबती 2017 ईस्वी – 53 वाँ

हिंदी साहित्य अकादमी पुरस्कार

#########

 

2017-ममता कालिया –दुक्खम सुक्खम(उपन्यास)
2016 सुरेंद्र वर्मा -काटना शमी का वृक्ष: पद्मपखुरी की धार से (उपन्यास)
2015 क्षमा (काव्य संग्रह)- सुनिता जैन
2014 प्रेमचंद की कहानियों का काल-क्रमानुसार अध्ययन -कमल किशोर गोयनका
2013 व्योमकेश दरवेश (संस्मरण)- विश्वनाथ त्रिपाठी
2012 न भूतो न भविष्यति (उपन्यास)- नरेन्द्र कोहली
2011 आम के पत्ते (काव्य संग्रह)- रामदरश मिश्र
2010 फिर भी कुछ रह जायेंगे – विश्वनाथ प्रसाद तिवारी
2009 इन्हीं हथियारों से – अमरकांत
2008 एक कहानी यह भी (आत्मकथा)- मन्नू भंडारी
नोट:-2007 इस वर्ष किसी कृति को सम्मानित नहीं किया गया।
2006 कविता का अर्थात -परमानंद श्रीवास्तव
2005 कथा सतिसार (उपन्यास)- चंद्रकांता
2004 कठगुलाब (उपन्यास)- मृदुला गर्ग
2003 आवां (उपन्यास) -चित्रा मुद्गल
2002 पृथ्वी का कृष्णपक्ष (प्रबंध काव्य)- कैलाश वाजपेयी
2001 आलोचना का पक्ष -रमेश चंद्र शाह
2000 पहला गिरमिटिया (उपन्यास)- गिरिराज किशोर
1999 बिसरामपुर का संत (उपन्यास)- श्रीलाल शुक्ल
1998 पाँच आँगनों वाला घर (उपन्यास)- गोविन्द मिश्र
1997 उत्तर कबीर तथा अन्य कविताएँ -केदारनाथ सिंह
1996 हिन्दी साहित्य और संवेदना का विकास- प्रो. राम स्वरूप चतुर्वेदी

1995 कोई दूसरा नहीं (काव्य संग्रह)- कुँवर नारायण
1994 सपना अभी भी (काव्य संग्रह) -धर्मवीर भारती
1993 मैं वक़्त के हूँ सामने (काव्य संग्रह) -गिरिजाकुमार माथुर
1992 नीला चाँद (उपन्यास) -डॉ. शिव प्रसाद सिंह
1991 भारत के प्राचीन भाषा परिवार और हिन्दी- रामविलास

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *