पर्यवेक्षित अध्ययन विधि

पर्यवेक्षित अध्ययन विधि प्रस्तुतकर्ता- मोरीसन (अमेरिका) उपनाम: निरीक्षित, निरीक्षण, परिवीक्षित, समाजीकृत अभिव्यक्ति विधि, पारिपाक विधि, उपचारी विधि, पर्यवेक्षण आदि नामों से जाना जाता है। निर्देशित स्वाध्याय विधि को मोरीसन ने प्रस्तुत किया। यह विधि एक ऐसी विधि है जिसके अन्तर्गत Read more…

संज्ञा व उसके भेद

संज्ञा दोस्तो आज की पोस्ट मे हम आपको संज्ञा के बारे मे विस्तार से बताने जा रहें है ,हम उम्मीद करते है कि आप  इसे अच्छे से समझ पाएंगे  संज्ञा किसे कहते है ? @ संज्ञा  की परिभाषा  ’संज्ञा’ उस Read more…

महावीर प्रसाद द्विवेदी

महावीर प्रसाद द्विवेदी (Mahavir Prasad Dwivedi) दोस्तो आज की इस पोस्ट मे हम  महावीर प्रसाद द्विवेदी  जी के बारे मे विस्तार से जानेंगे  इसलिए (Therefore) आप इस पोस्ट को अच्छे से पढ़िएगा ⇒जन्मकाल – 1864 ई. ⇒ जन्मस्थान – ग्राम – दौलतपुर, जिला Read more…

पृथ्वीराज रासो के बारे में मत

पृथ्वीराज रासो के विषय में विभिन्न मत : Hpd ने शुक शुकी संवाद कहा  शुक्ल ने पूरा जाली ग्रंथ नरोत्तम ने मुक्तक रचना नगेंद्र ने घटनाकोष डॉ बच्चन ने राजनीतिक महाकाव्य कर्नल ने एतिहासिक ग्रंथ श्याम ने विशाल वीर काव्य Read more…

डॉ. नगेन्द्र सम्पूर्ण लेखक परिचय

दोस्तो आज हम जानेंगे हिन्दी साहित्य के प्रसिद्ध लेखक डॉक्टर नगेन्द्र जी के बारे में डॉ. नगेन्द्र सम्पूर्ण लेखक परिचयइनका जन्म-9 मार्च, 1915 को अलीगढ़ , उत्तर प्रदेश में हुआ था इनका निधन 27 अक्टूबर, 1999 को हुआ पुरस्कार -साहित्य अकादमी पुरस्कार (‘रस-सिद्धांत’ के Read more…

रस व उसके भेद

रस व उसके भेद #काव्य शास्त्र

रस का अर्थ व भेद दोस्तो आज पोस्ट मे रस का अर्थ व उसके भेद को सविस्तार  पढ़ेंगे  & भारतीय काव्यशास्त्र के विभिन्न सम्प्रदायों में रस सिद्धान्त सबसे प्राचीन सिद्धान्त है। रस सिद्धान्त का विशद एवं प्रामाणिक विवेचन भरत मुनि Read more…

इलाचन्द्र जोशी के उपन्यास

दोस्तों आज हम इलाचंद्र जोशी के उपन्यासों के बारे में जानेंगे और महत्वपूर्ण उपन्यासों की विषय वस्तु के बारे में भी जानकारी प्राप्त करेंगे 1.लज़्ज़ा(1929) इसमें पूर्व में ‘घृणामयी’ शीर्षक से प्रकाशित लज्जा’ में लज्जा नामक आधुनिका, शिक्षित नारी की Read more…

error: कॉपी करना मना है