हिंदी साहित्य प्रश्नोतरी सीरीज़ 5

हिंदी साहित्य प्रश्नोतरी सीरीज़ 5

“तरनि तनूजा तट तमाल तरुवर बहु छाए”पंक्ति भारतेंदु की किस रचना से ली गईहै?

(अ) प्रेम मालिका
(ब) वेणु गीति
(स) चंद्रावली
(द) प्रेम माधुरी✔

Q 2 ” मैं ढूंढता तुझे था,जब कुंज और वन में,तू खोजता मुझे था,दीन के वतन में” पंक्ति है?
(अ) प्रसाद की
(ब) रामनरेश त्रिपाठी
(स) त्रिलोचन
(द) गिरजा कुमार की

Q.3 “हिमाद्रि तुंग श्रृंग से, प्रबुद्ध शुद्ध भारती।स्वयंप्रभा समुज्जवला, स्वतंत्रता पुकारती।”प्रसाद जी की किस कृति से उद्धृत है?

(अ) स्कंदगुप्त से
(ब) चंद्रगुप्त से (छठे दृश्य से )✔
(स) कामायनी से
(द) लहर से

Q.4 “केवल मनोरंजन न कवि का कर्म होना चाहिए, उसमें उचित उपदेश का भी मर्म होना चाहिए”पंक्ति है

(अ) हरिऔध की
(ब) निराला की
(स) गुप्त जी की✔
(द) पंत की

Q.5 “अपने यहां संसद -तेली की नानी है, जिसमें आधा तेल है,और आधा पानी है”पंक्ति है?
(अ) रघुवीर सहाय
(ब) धूमिल✔
(स) नागार्जुन
(द) नवीन की

Q.6 “अंधरों में राग अमन्द पियें, अलकों में मयलज बंद किये।तू अब तक सोई हैआली” पंक्ति है

(अ) प्रसाद की✔
(ब) निराला की
(स) पंत की
(द) महादेवी वर्मा की

Q.7 “ले चल मुझे भुलावा देकर मेरे नाविक ! धीरे-धीरे।”पंक्तिहै??

(अ) निराला
(ब)पंत
(स) प्रसाद✔
(द) नागार्जुन

Q.8 “मुक्त करो नारी को मानव, चिरबंदिनी नारी को।”पंक्ति हैं?
(अ) प्रसाद की
(ब) पंत की✔
(स) निराला की
(द) भगवती चरण वर्मा की

Q.9 “वियोगी होगा पहला कवि,आह! से उपजा होगा गान”पंक्ति है?

(अ) निराला
(ब) प्रसाद
(स) पंत✔
(द) महादेवी वर्मा

Q.10 “धूप सा तन दीप – सी मैं,मोम सा तन घुल चुका अब दीप-सा मन जल चका”पंक्ति हैं?

(अ) भगवती चरण वर्मा
(ब) रघुवीर सहाय
(स) महादेवी वर्मा
(द) निराला

Q.11 ” हम तो लेंगे सारा जीवन,’कम से कम’ वाली बात न हमसे कीजिए”पंक्ति है??
(अ). रघुवीर सहाय✔
(ब). धूमिल
(स) मुक्तिबोध
(द) नागार्जुन

Q 12 “कवि कुछ ऐसी तान सुनाओ जिससे उथल-पुथल मच जाए” पंक्ति है?

(अ) नागार्जुन
(ब) नवीन जी✔
(स) त्रिलोचन
(द) भारती

हिंदी साहित्य प्रश्नोतरी सीरीज़ 5

2 Comments

  • अनिल कुमार

    3. प्रश्न का सही उत्तर चंद्रगुप्त है।

    • केवल कृष्ण घोड़ेला

      बहुत बहुत आभार आपका ,इस तथ्य को सुधार दिया गया है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *