हिंदी साहित्य महत्वपूर्ण प्रश्न 9

हिंदी साहित्य महत्वपूर्ण प्रश्न 9

 

महत्वपूर्ण कथन

तुलसीदास को हिंदी का धर्मध्वज किसने कहा है?-
उत्तर::::——-चतुरसेन शास्त्री
नाथों की भाषा को फक्कडी भाषा किसने कहा है?
उत्तर:::::——–चतुरसेन शास्त्री
सिद्धों की भाषा को आलो आंधारी भाषा किसने कहा है?
उत्तर:::——हरप्रसाद शास्त्री
यह तो जगजाहिर है की रामानंद के बारह शिष्य थे
लेकिन किस आलोचक ने कहा की रामानंद के बारह नहीं साढे बारह शिष्य थे?
उत्तर::::——–नागरी प्रचारणी पत्रिका मे ।
पृथ्वीराज रासो को हिंदी का वृहत् महाभारत किसने कहा है?
उतर-::::::———दशरथ शर्मा
कबीर को अवधी का प्रथम कवि किसने माना है
उतर :::::::———बाबूराम सक्सेना

मिश्रबंधुओं ने हिंदी का सबसे उद्दण्ड कवि किसे माना है?
उतर:::———बेताल बंदीजन
मिश्रबंधुओं ने किस रीतिमुक्त कवि को ओऊल नंबर का रसिया कहा है?
उतर::——— ठाकुर जी
मिश्रबंधुओं ने अष्टछाप का नौवां कवि किसे माना है?
उतर::::——–नागरीदास

मिश्रबंधुओं ने पुर्वालंकृतकाल का सबसे बडा आचार्य किसे माना है?
उत्तर::::::——-चिंतामणि
मिश्रबंधुओं ने उत्तरालंकृत काल का सबसे बडा.कवि किसे माना है?
उतर::::::——भिखारीदास जी
मिश्रबंधुओं ने पुर्वालंकृतकाल का सबसे बडा कवि किसे माना है?
उतर:::——सेनापति
मिश्रबंधु विनोद को हिंदी साहित्य का पंचांग किसने कहा है?
उत्तर::—डॉ नामवर सिंह
शिवसिंह सरोज किस भाषा मे लिखा गया है
उत्तर::—-हिंदी में
गुरुग्रंथ साहब में कुल कितने संत कवियो के पद है?
उतर:—17
नंददास जडिया और कवि गढिया यह तो जगजाहिर है
लेकिन वो एक भक्त कवि कौन है जिसे ‘जडिया और गढियां’ भक्त कवि कहा जाता है?
उतर:::——तुलसीदास जी

रीतिकाल का वह कवि जिसने खडी बोली हिंदी में सीतवसंत नामक (प्रबन्धरूप में)कहानी लिखी थी?
उतर:::——चन्दन कवि
रीतिकाल के किस कवि का उपनाम ‘काष्ठ जिह्वा स्वामी’ था?
उतर::——देव बनारस वाले
हिंदी का प्रथम जयकाव्य कौनसा है?
उतर::—–खुमाण रासो
मिश्रबंधुओं ने हिंदी का प्रथम नाटककार किसे माना है?
उतर::——विद्यापति जी को
मिश्रबंधुओ ने हिंदी का प्रथम इतिहास सहायक किसे माना है
एवं किस ग्रंथ को प्रथम प्रथम इतिहास सहायक ग्रंथ माना है?
उतर:::———शिव सिंह सरोज

कहा जाता है कि सेनापति ने अपने अंतिम समय मे क्षैत्रसन्न्यास ले लिया था
यहा क्षैत्र सन्न्यास का क्या मतलब है?
उतर:::——-अपने निवास स्थान से बाहर न निकलना ।सेनापति ने वृन्दावन से निकलना बन्द कर दिया था ।
मिश्रबंधुओं ने किस कवि को हिंदी का प्राचीन समालोचक माना है?
उतर:::——भिखारीदास जी को
मिश्रबंधुओ ने हिंदी का चासर किसे कहा है?
उतर:::——चन्दबरदाई जी को
“देव हिन्दी के भिखारी कवि है|” वाक्य किस विद्वान का है?
उतर——लाला भगवानदीन
बिहारी सतसई को आजमशाही किसने कहा था और क्यू कहा था?
उतर::——-मिस्रबन्धुओ ने कहा :—–आज बिहारी सतसई दोहों का जो क्रम मिलता है वो सर्वप्रथम आजमशाह ने करवाया था ।

पल्लव को छायावाद का घोषणा पत्र किसने कहा?
उतर:::——रामधारी सिंह दिनकर जी
निराला को छंदो का राजा किसने कहा ?
उतर::——डॉ नामवर सिंह जी ने ।
बिहारी की कविता(सतसई) को हिंदी का श्रृंगार किसने कहा है?
उत्तर::——-आचार्य रामचंद्र शुक्ल जी
बिहारी को भाषा का पण्डित किसने कहा है?
उतर::——विश्वनाथ प्रसाद मिश्र जी ने
मिश्रबंधुओं ने हिंदी का सर्वश्रेष्ठ वर्तमान गद्य लेखक किसे माना है?
उतर::—–आचार्य चतुसेन शास्त्री
रामकुमार वर्मा रचित ‘हिंदी साहित्य का आलोचनात्मक इतिहास’ ग्रंथ को किसने हिंदी सआहित्य का एक रिसर्च वर्क -डाक्टरेट के लिए लिखा गया एक थीसेस कहा है?
उत्तर:::—–मिस्रबन्धु
कृष्ण काव्य धारा में स्वच्छंद काव्य धारा के प्रवर्त्तक कवि है??
उतर::::——–रसखान
कबीर का वह शिष्य कौन था जो बीजक को लेखर भाग गया था?
उत्तर::—–भगवानदास
किस विद्वान ने सूर के ग्रंथ सूरसारावली को एक वृहत् होली गीत कहा है?
उतर:::——-मुंशी राम शर्मा ।​

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *