रामनरेश त्रिपाठी जीवन परिचय#Ramnaresh Tripathi

दोस्तो आज की पोस्ट मे हम रामनरेश त्रिपाठी जी के जीवन परिचय के बारे में जानेंगे 

रामनरेश त्रिपाठी(Ramnaresh Tripathi)

जन्मकाल – 1889 ई.
जन्मस्थान – ग्राम-कोइरीपुर, जिला – जौनपुर
मृत्युकाल – 1962 ई.

प्रमुख रचनाएँ –

(क) प्रबन्धात्मक काव्य रचनाएँ –

  • मिलन – 1917 ई. (विदेशी शासन से देशोद्धार का भाव)
  • पथिक – 1920 ई. (उपनिवेशवाद के एकतंत्र से मुक्ति)
  • स्वप्न – 1929 ई. (1. विदेशी आक्रमणकारियों से सुरक्षा का भाव 2. उत्तराखंड व काश्मीर की सुषमा का वर्णन है।)

(ख) फुटकल कविता संग्रह

  •  मानसी – 1927 ई. (इसमें देशभक्ति, प्रकृति चित्रण और नीति निरुपण से संबंधित फुटकल कविताओं का संग्रह किया गया है।)

विशेष तथ्य –

  • इनके द्वारा रचित ’मिलन’, ’पथिक’ तथा ’स्वप्न’ काल्पनिक कथाश्रित प्रेमाख्यानक खंडकाव्य की श्रेणी में  शामिल किये जाते हैं।
  • ’कविता कौमुदी’ के आठ भागों में  इन्होंने बङी योग्यता से हिंदी, उर्दू, बंगला एवं संस्कृत की कविताओं का संकलन और संपादन किया है।
  •  इन्होंने पर्याप्त भ्रमण करके बङी लगन और परिश्रम से ’लोकगीतों’ का संग्रह भी किया था।
  •  इन्हें गाँधीजी द्वारा प्रवर्तित असहयोग आंदोलन में  जेल भी जाना पङा था।
  • इनके खण्डकाव्यों में  देशोद्धार के लिए नवयुवकों का आह्वान किया गया है, बालक व वृद्धों का नहीं।
  • ये हिन्दी बाल साहित्य के जनक माने जाते हैं।
  • इन्होंने कई वर्षों तक ’बानर’ नामक बाल पत्रिका का संपादन कार्य किया था।
  • प्रसिद्ध कथन – ’’पराधीन रहकर अपना सुख शोक न कह सकता है
  • यह अपमान जगत् में केवल पशु ही सह सकता है।’’

अज्ञेय जीवन परिचय देखें 

विद्यापति जीवन परिचय  देखें 

अमृतलाल नागर जीवन परिचय देखें 

महावीर प्रसाद द्विवेदी  जीवन परिचय देखें 

डॉ. नगेन्द्र  जीवन परिचय देखें 

भारतेन्दु जीवन परिचय देखें 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *