मलिक मुहम्मद जायसी

मलिक मुहम्मद जायसी

 मलिक मुहम्मद जायसी जीवन परिचय  मलिक मुहम्मद जायसी जायसी  कृत ’पद्मावत’ में कुल 57 खण्ड है और इनका प्रिय अलंकार ’उत्प्रेक्षा ’ है। मलिक मुहम्मद जायसी ने अपने पूर्व लिखे गये चार प्रेमाख्यानकों का उल्लेख किया है – 1 मधुमालती, 2 मृगावती 3 मुग्धावती और 4 प्रेमावती। जायसी  अमेठी के Read more…

भक्तिकाल में सूफीकाव्य धारा की विशेषताएं

भक्तिकाल में सूफीकाव्य धारा की विशेषताएं

भक्तिकाल में सूफीकाव्य धारा की विशेषताएं भक्तिकाल में सूफीकाव्य धारा की विशेषताएं सूफी काव्यधारा की विशेषताएँः- (क) भावगत विशेषताएँ- * सूफी दर्शन ने इस्लाम की पारम्परिक धारणा में संशोधन करते हुए ’’तसत्वुफ’’ के दर्शन को मान्यता दी।  *मानवीय प्रेम को जीवन के आधारभूत मूल्य के रूप में स्थापित किया Read more…

error: कॉपी करना मना है