hindi sahitya || छायावाद युग प्रमुख रचनाएँ || chaayavaad yug pramukh rachanaen

इस पोस्ट में (hindi sahitya)आधुनिक काल की महत्वपूर्ण विषयवस्तु छायावाद युग  की प्रमुख रचनाओ को एक साथ दिया गया है ताकि आप एक साथ अभ्यास कर पाएँ

छायावाद युग प्रमुख रचनाएँ(chaayavaad yug pramukh rachanaen)hindi sahitya

 

रचनाएँलेखक
1. हिमकिरीटिनी, हिमतंरगिणी, मातामाखनलाल चतुर्वेदी
2. मौर्य विजय, बापू, दूर्वादल, पाथेय, मृण्मयीसियारामशरण गुप्त
3. कुंकुम, उर्मिला, अपलक, रश्मिरेखा, क्वासि, हम विषपायी जनम के बालकृष्ण शर्मा ’नवीन’
4. त्रिधारा, मुकुलसुभद्राकुमारी चैहान
5. तक्षशिला उदयशंकर भट्ट
6. उर्वशी, वनमिलन, प्रेमराज्य अयोध्या का उद्धार, शोकोच्छ्वास, महाराणा का महत्त्व, झरना, आँसू, लहर, कामायनीजयशंकर प्रसाद
7. अनामिका, परिमल, गीतिका, तुलसीदास, पंचवटी प्रसंग, राम की शक्तिपूजा, अणिमा, अर्चनासूर्यकांत त्रिपाठी ’निराला’
8. गिरजे का घंटा, उच्छ्वास, ग्रंथि, वीणा, पल्लव, गुंजन, युगांत, युगवाणी, ग्राम्या, स्वर्णकिरण, स्वर्णधूलि, उत्तरा, रजतशिखर, वाणी, पतझरसुमित्रानंदन पंत
9. नीहार, रश्मि, नीरजा, सांध्यगीत, यामा, दीपशिखामहादेवी वर्मा
10. रूपराशि, निशीथ, चित्ररेखा, आकाशगंगाडाॅ. रामकुमार वर्मा
11. राका, मानसी, विसर्जन, युगदीप, अमृत और विषउदयशंकर भट्ट
12. निर्माल्य, एकतारामोहनलाल मेहतो ’वियोगी’
13. मधुशाला, मधुबाला, मधुकलशहरिवंशराय बच्चन
14. प्रभातफेरी, प्रवासी के गीत, पलाशवननरेंद्र शर्मा
15. हुंकार, रेणुका, द्वंद्वगीत, कुरुक्षेत्र, इतिहास के आँसू, रश्मिरथी, धूप और धुआँ, दिल्ली, रसवंतीरामधारीसिंह दिनकर
16. सूत की माला, निशा-निमंत्रण, एकांत संगीत, सतरंगिनी, मिलन-यामिनी, आरती और अंगारे, आकुल अंतरहरिवंशराय बच्चन
17. शिल्पी, अतिमा, कला और बूढ़ा चाँद, लोकायतन, सत्यकामपंत
18. मिट्टी और फूल, कदलीवननरेंद्र शर्मा
19. मधूलिका, अपराजिता, किरणबेला, लाल चूनररामेश्वर शुक्ल ’अंचल’
20. कलापी, पांचजन्यआरसीप्रसाद सिंह
21. नींद के बादल, फूल नहीं रंग बोलते हैं, अपूर्व, युग की गंगाकेदारनाथ सिंह
22. प्यासी पथराई आँखें, युगधारा, भस्मांकुर, सतरंगे पंखों वालीनागार्जुन
23. राह का दीपक, अजेय खँडहर, पिघलते पत्थर, मेधावी, पांचालीरांगेय राघव
24. मंजीर, कल्पांतर, शिलापंख चमकीले, नाश और निर्माण, मशीन का पुर्जा, धूप के धान, मैं वक्त के हूँ सामने, छाया मत छूना मनगिरिजाकुमार माथुर
25. भूरी-भूरी खाक धूल, चाँद का मुँह टेढ़ा हैगजानन माधव ’मुक्तिबोध’
26. अंधायुग, कनुप्रिया, ठंडा लोहा, सात गीत वर्षधर्मवीर भरती
27. सतपुङा के जंगल, गीतफरोश, खुशबू के शिलालेख, बुनी हुई रस्सी, कालजयी, गांधी पंचशती, कमल के फूल, इदं न मम, चकित है दुख, वाणी की दीनताभवानीप्रसाद मिश्र
28. भग्नदूत, चिंता, इत्यलम्, हरी घास पर क्षणभर, बावरा अहेरी, इंद्रधनुष रौदे हुए ये, अरी ओ करुणा प्रभामय, आँगन के पार द्वार, कितनी नावों में कितनी बार, क्योंकि मैं उसे जानता हूँ, सागर-मुद्रा, पहले मैं सन्नाटा बुनता हूँ, महावृक्ष के नीचे, नदी की बाँक पर छाया, प्रिजन डेज एवं अदर पोएम्स (अंग्रेजी में), असाध्य वीणा, रूपाम्बरासच्चिदानंद हीरानंद वात्स्यायन ’अज्ञेय’
29. अमन का राग, चुका भी नहीं हूँ मैं, इतने पास अपनेशमशेर बहादुर सिंह
30. परिवेश, हम तुम, चक्रव्यूह, आत्मजयी, आमने-सामनेकुँवर नारायण
31. संशय की एक रात, वनपाखी सुनो, मेरा समर्पित एकांत, बोलने दो चीङ कोनरेश मेहता
32. मिट्टी की बारात, बरती, गुलाब और बुलबुल, दिगंत, ताप की तापे हुए दिन, शब्द, उस जनपद का कवि हूँत्रिलोचन
33. कागज के फूल, जागते रहो, मुक्तिमार्ग, ओ अप्रस्तुत मन, उतना वह सूरज हैभारतभूषण अग्रवाल
34. साये में धूप, सूर्य का स्वागत, एक कंठ विषपायी, आवाज के घंटेदुष्यंत कुमार
35. जहाँ शब्द है, तेल की पकौङियाँ, स्वप्नभंग, अनुक्षण, मेपलप्रभाकर माचवे
36. सीढ़ियों पर धूप में, आत्महत्या, लोग भूल गए हैं, मेरा प्रतिनिधि, हँसो-हँसो जल्दी हँसोरघुवीर सहाय
37. मन्वंतर, खण्डित सेतुशंभूनाथ सिंह
38. हिल्लोल, जीवन के गान, प्रलय-सृजन, ’विश्वास बढ़ता ही गयाशिवमंगल सिंह ’सुमन
39. अभी और कुछ इनका, चाँदनी और चूनर, दोपहरी, सुनसान गाङीशकुंतला माथुर
40. खूँटियों पर टँगे लोग, कुआनो नदी, बाँस के पुल, काठ की घंटियाँ, एक सूनी नाव, गर्म हवाएँ, जंगल का दर्दसर्वेश्वरदयाल सक्सेना
41. मछलीघर, संवाद तुम से साखीवियजदेवनारायण साही
42. नाव के पाँव, शब्दशः, हिमबिद्ध, युग्मरामेश्वर गुप्त
43. मृग और तृष्णा, एक नशीला चाँद, उठे बादल झुके बादल, त्रिकोण पर सूर्योदयहरिनारायण व्यास
44. मायादर्पण, मगध, शब्दों की शताब्दी, दीनारंभश्रीकांत वर्मा
45. कंकावती, मुक्तिप्रसंगराजकमल चौधरी
46. एक पतंग अनंत में, शहर अब भी संभावना हैअशोक वाजपेयी
47. जो नितांत मेरी हैबालस्वरूप राही
48. संसद से सङक तक, कल सुनना मुझे, सुदामा पाण्डे का प्रजातंत्रधूमिल
49. अंकित होने दो, अकेले कंठ की पुकारअजित कुमार
50. एक गई है धूप, बैरंग बेनाम चिट्ठियाँरामदरश मिश्र
51. एक पुरुष और, कई अंतराल, दूसरा रागडाॅ. विनय
52. इतिहास हंताजगदीश चतुर्वेदी
53. अपनी तरह का आदमीप्रमोद कौसवाल
54. कुछ शब्द जैसे मेजसंजीव मिश्र
55. कुकुरमुत्ता, गर्म पकौङी, प्रेम-संगीत, रानी और कानी  खजोहरा, मास्को डायलाग्स, स्फटिक शिला, नये पत्ते, गीत गुंज, सांध्य काकलीनिराला
56. ऐसे भी हम क्या, ऐसे भी तुम क्या, खिचङी विप्लव, देखा हमने, हजार हजार बाँहों वाली, पुरानी जूतियों का कोरस, रत्नगर्भनागार्जुन
57. सुनो कारीगर, क से कबूतरउदयप्रकाश
58. आत्महत्याएँ, इला और अमिताभदेवराज
59. प्रवाद पर्व, महाप्रस्थान, शबरीनरेश मेहता
60. कालजयीभवानीप्रसाद अग्रवाल
61. अग्निलीकभारतभूषण अग्रवाल
62. पुनर्वास का दण्ड, एक मृत्यु प्रश्नडाॅ. विनय
63. सूर्यपुत्रजगदीश चतुर्वेदी
64. अपराजितारामेश्वर शुक्ल ’अंचल’
65. किसे किसे बनवास दोगेशैलेश जैदी
66. विधुरापी.डी. निर्मल

hindi sahitya

छायावाद युग प्रमुख रचनाएँ(chaayavaad yug pramukh rachanaen)

hindi sahitya

ये भी अच्छे से जानें ⇓⇓

समास क्या होता है ?

परीक्षा में आने वाले मुहावरे 

सर्वनाम व उसके भेद 

महत्वपूर्ण विलोम शब्द देखें 

विराम चिन्ह क्या है ?

परीक्षा में आने वाले ही शब्द युग्म ही पढ़ें 

पर्यायवाची शब्द 

ऐसी समास की पोस्ट नही पढ़ी होगी आपने .. जरूर पढ़ें 

hindi sahitya

साहित्य के शानदार वीडियो यहाँ देखें 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *