रीतिकाल विशेष हिंदी साहित्य

रीतिकाल विशेष
💐💐💐💐💐
केवल कृष्ण घोड़ेला
👇👇👇👇
1. नगेन्द्र ने कवि देव की किस रचना को नायिका भेद का विश्वकोश माना है?
👉सुखसागर तरंग
2.पदमाकर की कोनसी रचना वाल्मीकि के रामायण का छायानुवाद है?
👉राम रसायन
3.यमुना लहरी रचना है
👉ग्वाल की
4.बिहारी सतसई के प्रथम टीकाकार थे
👉कृष्णलाल कवि
5.बिहारी को पीयूषवर्षी मेघ किसने कहा ?
👉राधाचरण गोस्वामी
6.ककहरा रचना किसकी है ?
👉रामसहाय भगत
7.’ऋतु वर्णनों में इनके हृदय का उल्लास उमड़ पड़ता है’ कथन शुक्ल जी ने किसके लिए कहे?
👉द्विजदेव
8.इश्कनामा रचना है
👉बोधा
9.तुलसीभूषण रचना है
👉रसरूप
10.अंगदर्पण रचना किसकी है ?
रसलीन

रीतिकाल विशेष हिंदी साहित्य

ब्रजेश कुमार जी
👇👇👇
11. रीति काव्य परम्परा का प्रथम ग्रंथ
👉हिततरंगिणी ( कृपाराम)
12. रीतिबद्ध अंतिम प्रसिद्ध आचार्य
👉 पद्माकर
13.हिन्दी में पिंगल निरूपण का विधिवत प्रारंभ माना जाता है
👉केशव से
14.गंगालहरी रचनाकार
👉पद्माकर
15.”बिहारी अकेले कवि हैं जिन्होंने ग्रामीण संस्कृति के प्रति घृणा व्यक्त की है ” कथन
👉 डाक्टर बच्चन सिंह
16.युगलोपासना या सखी संप्रदाय का प्रमुख केन्द्र था
👉वृंदावन
17. घनानंद का कौन सा ग्रंथ फ़ारसी के छंद में है
👉 विरहलीला (वियोगबेली)
18. कोऊ कितेक उपाय करो, कहुँ होत है आपुने पीव पराये…. पंक्ति किसकी है
👉मतिराम
19. चिंतामणि का सर्वाधिक प्रसिद्ध ग्रंथ है
👉कविकुल कल्पतरू
20. रीति से तात्पर्य
👉 विशिष्ट पद रचना

रीतिकाल विशेष हिंदी साहित्य

ब्रज भूषण जी 👉
👇👇
21 तुलसी गंग दुवौ भए, सुकविन के सरदार- 👉 भिखारीदास
22 नेन नचाई कहौ मुस्काई, लला फिर आइयो खेलन होली👉पद्माकर
23 अमिय हलाहल माध भरे, स्वेतश्याम रतनार👉रसलीन
24 ब्रजभाषा हेतु ब्रजवास हीन अनुमानों👉भिखारीदास
25 रीतिकाल किस राजनीतिक शक्ति के समय पल्लवित हुआ👉मुग़ल वंश
26 केशव को भाषा का मिल्टन किसने कहा👉मिश्रबंधु
27 बीरबल से मित्रता और अकबर से अनबन किस रीतिकालीन कवी की थी👉केशव
28 केशव की मुक्तक काव्य रचनाये👉नख शिख वर्णन, रसिक प्रिया, कवि प्रिया(सूत्र-नरक से मुक्ति) नोट- केशव की बाकी सब रचनाये प्रबंध काव्य में हैं।
*********
हेम सिंह जी
👇👇👇
केशवदास की रचनाऎ –
29.रसिकप्रिया -1591ई.
30.कविप्रिया -1601
31.रामचन्द्रिका -1601
32.रतनबावनी -1607
33.वीरदेवसिंह चरित -1607
34.विज्ञान गीता-1610
35.जहाँगीर जस चंद्रिका-1612

रीतिकाल विशेष हिंदी साहित्य

बृजेश कुमार यादव
“””””””””””””””””””””””””
रामचंद्रिका का मूलाधार- वाल्मीकि रामायण

बिहारी सतसई के अनुकरण पर रसनिधि ने किस ग्रंथ की रचना की- रतनहजारा

बिहारी की प्रसिद्धि का का कारण- कल्पना की समाहार शक्ति एवं भाषा चीज समास शक्ति

रीतिकाल को कलाकाल कहा- रमाशंकर शुक्ल रसाल

छंदों का वैविध्य- रामचंद्रिका

श्री राधासुधाशतक के रचयिता- हठी जी

खङी बोली में रचित भाषायोग वसिष्ठ रचनाकार- रामप्रसाद निरंजनी

ठाकुर नाम के रीतिकाल में कितने कवि हुए- तीन

घनानंद-
कवित्त सवैया -752
पद-1057
दोहे चौपाई-2354

संजय धौलपुरिया

💯इन पंक्तियों के रचनाकार कवियों के नाम बताइये?

1 *हम कविराज है, पै चाकर चतुर के* पँक्ति?
👉ठाकुर

2 *कुक भरी मुक्ता बुलाए आप बोलिहे* पँक्ति?
👉घनानन्द

3 *नैनन में जे सदा रहते तिनकी अब कान कहानी सुन्यो करें* पँक्ति?
👉आलम

4 *सघनकुंज छाया सुखद शीतल मंद समीर* पँक्ति?
👉बिहारी

5 *भाषा बोली न जानहि जिनके कुल के दास* पँक्ति?
👉केशवदास

मुकेश जी माहर

~*~**1. द्रोणपर्व किसकी रचना हैं❓~*~*
👉कुलपति मिश्र
2. अंगदर्पण के रचियता हैं-❓*
👉रसलीन
3. बूँदी नरेश भाव सिंह के दरबारी कवि हैं-❓
👉मतिराम
4. रीतिकालीन काव्य की सर्वप्रमुख भाषा है-
👉ब्रज
5. बिहारी सतसई में लगभग कितने दोहे श्रृंगारिक हैं❓
👉600

*रीतिकाल*
1. बिहारी सतसई का संपादन जगन्नाथदास ने किस नाम से किया है!
(A) बिहारी वैभव
(B) बिहारी बोधिनी
(C) बिहारी रत्नाकर ✅
(D) बिहारी का शिल्प

2. इनमें से केशव द्वारा लिखित महाकाव्य कौन सा है!
(A) रसिकप्रिया
(B) कविप्रिया
(C) जहांगीर जसचंद्रिका
(D) रामचंद्रिका✅

3. केशव को कठिन काव्य का प्रेत क्यों कहा जाता है!
(A) अलंकार बहुलता के कारण
(B) चमत्कार प्रदर्शन के कारण
(C) काव्य में क्लिष्टता के कारण @@
(D) पांडित्य प्रदर्शन के कारण

4. आचार्य रामचंद्र शुक्ल के अनुसार, हिंदी के अधिकांश अलंकार ग्रंथ किनके अनुकरण पर लिखे गए!
(A) काव्यप्रकाश
(B) काव्यालंकार
(C) चंद्रालोक
(D) चंद्रालोक एवं कुवलयानंद ✅

5. इनमें से सर्वांग निरूपक कवि कौन है!
(A) भिखारीदास✅
(B) नागरीदास
(C) भूषण
(D)वेनी प्रवीण

रीतिकाल ट्रिक्स

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here