Hindi sahitya objective question ||Quiz 7 || रामकाव्य || हिंदी साहित्य

दोस्तो आज आप हिंदी साहित्य में Hindi sahitya objective question भक्तिकाल(रामकाव्य धारा)विषय पर से अपना मुल्यांकन करें ,इनके उत्तर नीचे दिए गए है |

Hindi sahitya objective question Quiz 7

हिन्दी साहित्य मिशन
प्रश्न संख्या: 50      टेस्ट – 7 रामकाव्य धारा (भक्तिकाल)          पूर्णांक: 100
1. ’कवित्त रत्नाकर’ और ’काव्य कल्पदु्रम’ के रचयिता हैं-
(अ) सेनापति (ब) दूलह
(स) रसलीन (द) भूषण
2. सीता को प्रधानता देकर रचित ग्रंथ ’सीतायन’ के रचयिता कौन हैं –
(अ) नाभादास (ब) मधुरप्रिया
(स) रामप्रिया शरण (द) जानकी रसिक शरण
3. रामभक्ति में ’स्वसुखी शाखा’ के प्रवर्तक हैं –
(अ) अग्रदास (ब) बालानंद
(स) रामशरणदास (द) जीवाराम
4. रामभक्ति में ’तत्सुखी शाखा’ के प्रवर्तक हैं –
(अ) रामचरणदास (ब) जीवाराम
(स) युगलानंद (द) रघुराम सिंह
5. तुलसीदास ने बीमारी से मुक्ति पाने के लिए किस ग्रन्थ की रचना की –
(अ) वैराग्य संदीपनी (ब) गीतावली
(स) हनुमान बाहुक (द) विनयपत्रिका
6. ’’परहित सरिस धरम नहिं भाई’’ पंक्ति किसकी हैं –
(अ) तुलसीदास (ब) कृष्णदास
(स) अग्रअलि (द) नाभादास
7. ’’गोरख जगायो जोग, भक्ति भगायो लोग-किसकी पंक्ति हैं ?
(अ) तुलसीदास (ब) कबीरदास
(स) गोरखनाथ (द) दादूदयाल
8. तुलसीदास किस दार्शनिक मत के भक्त कवि थे –
(अ) अद्वैतवाद (ब) शुद्धाद्वैतवाद
(स) द्वैतवाद (द) विशिष्टाद्वैतवाद
9. तुलसीदास को ’बुद्धदेव के बाद सबसे बङा लोकनायक’ किसने कहा हैं –
(अ) आचार्य रामचंद्र शुक्ल
(ब) आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी
(स) डाॅ. नामवर सिंह
(द) जार्ज ग्रियर्सन
10. रामभक्ति की वह शाखा जिसमें भक्त अपने को सीता की सखी के रूप में रखकर राम की भक्ति में प्रवृत्त होता है-
(अ) तत्सुखी (ब) सखी
(स) गौङीय (द) हरिदासी

हिंदी साहित्य quiz  1 

11. तुलसीदास को ’कलिकाल का वाल्मीकि’ किसने कहा हैं –
(अ) नाभादास (ब) केशवदास
(स) डाॅ. नामवर सिंह (द) ग्रियर्सन
12. रामभक्ति में ’रसिक सम्प्रदाय’ की शुरुआत किसने की –
(अ) अग्रदास (ब) जीवाराम
(स) नाभादास (द) तुलसीदास
13. किस जातक कथा में रामकथा हैं –
(अ) साधुशील जातक (ब) अनामर्क जातक
(स) बाबेरू जातक (द) चम्मसाटक जातक
14. इनमें से रामानुजाचार्य द्वारा प्रवर्तित उस सम्प्रदाय का नाम बताइए जिसमें राम भक्ति का विधान हैं –
(अ) ब्रह्म सम्प्रदाय (ब) चैतन्य सम्प्रदाय
(स) बल्लभ सम्प्रदाय (द) हरिदासी सम्प्रदाय
15. ’रामतारक मन्त्र’ के रचयिता कौन माने जाते हैं ?
(अ) राघवानन्द (ब) रामानन्द
(स) रामानुजाचार्य (द) इनमें से कोई नहीं
16. धनुषबाणधारी राम के लोकरक्षक स्वरूप की उपासना उत्तर भारत में किसने प्रचलित की ?
(अ) तुलसीदास (ब) रामानन्द
(स) रामानुजाचार्य (द) आलवार भक्त
17. ’अंगद पैज’ नामक काव्य ग्रंथ के रचयिता कौन हैं?
(अ) विष्णुदास (ब) ईश्वरदास
(स) अग्रदास (द) सुंदरदास
18. ’रामाष्टयाम’ के रचयिता का नाम बताइए –
(अ) ईश्वरदास (ब) मुनिलावण्य
(स) अग्रदास (द) हृदयराम
19. ’अवध विलास’ के रचयिता का नाम बताइए –
(अ) केशवदास (ब) प्राणचन्द चैहान
(स) परशुराम देव (द) लालदास
20. ’हनुमन्नाटक’ के रचयिता इनमें से कौन हैं ?
(अ) माधवदास (ब) ईश्वरदास
(स) कपूरचन्द त्रिखा (द) हृदयराम
21. राम के दरबार में भेजने के लिए तुलसी ने किस ग्रंथ की रचना की हैं ?
(अ) रामचरित मानस (ब) दोहावली
(स) बरवै रामायण (द) विनयपत्रिका
22. इनमें से कौनसी रचना तुलसीदास की नहीं हैं ?
(अ) पार्वती मंगल (ब) जानकी मंगल
(स) रुक्मिणी मंगल (द) बरवै रामायण
23. ’श्री रामार्चन पद्धति’ ग्रंथ के रचयिता कौन हैं ?
(अ) शंकराचार्य (ब) तुलसीदास
(स) अग्रदास (द) रामानन्द
24. ’मूल गोसाईं चरित’ के रचयिता कौन हैं ?
(अ) नाभादास (ब) नन्ददास
(स) प्रियादास (द) बेनीमाधवदास
25. तुलसी के जीवन चरित्र को जानने के लिए कौनसा ग्रंथ सर्वाधिक उपयुक्त हैं ?
(अ) रामचरित मानस (ब) मूल गोसाई चरित
(स) कवितावली (द) विनय पत्रिका
26. तुलसी की किस रचना में उनके जीवन से संबंधित वृतान्त अधिक हैं ?
(अ) रामचरित मानस (ब) विनय पत्रिका
(स) कवितावली (द) दोहावली
27. तुलसीदास का समय इसमें से क्या हैं ?
(अ) 1532-1623 ई. (ब) 1554-1680 ई.
(स) 1498-1578 ई. (द) 1500-1600 ई.
28. ’अस्थिचर्ममय देह मम तामैं ऐसी प्रीति’’ यह कथन किसका हैं ?
(अ) तुलसीदास (ब) हुलसी
(स) रत्नावली (द) कबीर
29. काशी में तुलसी ने किस गुरु के पास रहकर विद्याध्ययन किया –
(अ) नरहरिदास (ब) शेष सनातन
(स) गंगाराम ज्योतिषी (छ) महन्त राघवानन्द
30. आचार्य शुक्ल ने तुलसी के प्रामाणिक ग्रंथों की संख्या कितनी मानी हैं ?
(अ) दस (ब) बारह
(स) बाईस (द) आठ
31. बरवै रामायण की रचना तुलसी ने किसके आग्रह पर की थी –
(अ) मीरा (ब) रहीम
(स) केशव (द) सूरदास
32. तुलसी की गीतावली किस कवि की रचना से प्रभावित हैं ?
(अ) रहीम (ब) सूरदास
(स) नन्ददास (द) केशव
33. पौरुषेय रामायण के रचयिता का नाम बताइए-
(अ) प्राणचन्द चैहान (ब) सेनापति
(स) नरहरि वापट (द) माधवदास चारण
34. ’’रामानन्द वर्णाश्रम व्यवस्था को समाज के लिए स्वीकार करते थे किन्तु उपासना के क्षेत्र में नहीं।’’ यह मत इनमें से किसका हैं –
(अ) हजारी प्रसाद द्विवेदी (ब) डाॅ. नगेन्द्र
(स) आचार्य शुक्ल (द) परशुराम चतुर्वेदी
35. रामचरित मानस की रचना कब प्रारंभ हुई ?
(अ) 1631 वि. (ब) 1854 वि.
(स) 1680 वि. (द) इनमें से कोई नहीं
36. इनमें से रामकथा का मार्मिक प्रसंग कौनसा हैं ?
(अ) नारद मोह (ब) चित्रकूट प्रसंग
(स) अहिल्या उद्धार (द) रावण वध
37. ज्ञान-भक्ति का विशद विवेचन रामचरितमानस के किस काण्ड में हैं ?
(अ) बालकाण्ड (ब) लंकाकाण्ड
(स) उत्तरकाण्ड (द) अयोध्या काण्ड
38. ’’सूरदास की रचना में संस्कृत की कोमलकान्त पदावली और अनुप्रासों की वह छटा नहीं है जो तुलसी की रचना में दिखाई पङती है।’’ यह कथन किस आलोचक का हैं ?
(अ) डाॅ. नामवर सिंह (ब) हजारीप्रसाद द्विवेदी
(स) आचार्य शुक्ल (द) शिवसिंह सेंगर
39. ’दूलह राम सीय दुलही री’ यह पंक्ति तुलसीदास के किस काव्य गं्रथ की हैं ?
(अ) कवितावली (ब) गीतावली
(स) बरवै रामायण (द) रामचरित मानस
40. ’बालधी विसाल विकराल ज्वाल जाल मानों, लंक लीलिबै कौ काल रसना पसारी है।’’ यह पंक्ति किस काव्य ग्रंथ में हैं ?
(अ) कवितावली (ब) गीतावली
(स) दोहावली (द) बरवै रामायण
41. ’’केसव कहि न जाय का कहिए’’ पंक्ति किस कवि की हैं ?
(अ) केशवदास (ब) सूरदास
(स) तुलसीदास (द) विद्यापति
42. ’’जाके प्रिय न राम वैदेही’’ पद किस पुस्तक में हैं?
(अ) कवितावली (ब) विनयपत्रिका
(स) बरवै रामायण (द) भक्तमाल
43. तुलसीदास की भक्ति किस प्रकार की हैं ?
(अ) सख्यभाव (ब) दास्यभाव
(स) पुष्टिमार्ग (द) माधुर्यभाव
44. रामभक्ति काव्य परम्परा में दाम्पत्य मूलक उपासना को लेकर चलने वाली शृंगारी भावना के प्रवर्तक कौन थे?
(अ) अग्रदास (ब) नाभादास
(स) रामचरणदास (द) केशवदास
45. रामचरित मानस का प्रारंभ तुलसीदास  ने कहाँ किया था?
(अ) काशी (ब) अयोध्या
(स) चित्रकूट (द) सूकरखेत
46. रामभक्ति शाखा के अन्तर्गत ’बैरागी दल’ का गठन किसने किया –
(अ) रामानन्द (ब) तुलसीदास
(स) नाभादास (द) नरहरिदास
47. जानकी जी की सखी बनकर रचना करने वाले रामभक्त कवि का नाम बताइए –
(अ) अग्रदास (ब) धु्रवदास
(स) नाभादास (द) लालदास
48. नाभादास जी के गुरु का नाम क्या था ?
(अ) अग्रदास (ब) लालदास
(स) तुलसीदास (द) रहीमदास
49. भक्तमाल में कितने भक्तों के चरित्र का वर्णन हैं ?
(अ) 100 (ब) 150
(स) 200 (द) 250
50. ’’कलि कुटिल जीव विस्तार हित वाल्मीकि तुलसी भयौ’ पंक्ति किस कवि की हैं ?
(अ) रसखान (ब) नाभादास
(स) नन्ददास (द) मीराँ
उत्तरमाला
टेस्ट – 7 रामकाव्य धारा (भक्तिकाल)
उत्तरमाला हिन्दी साहित्य चैनल 
1 अ    26 स
2 स    27 अ
3 स    28 स
4 ब    29 ब
5 स    30 ब
6 अ    31 ब
7 अ    32 ब
8 द     33 स
9 द     34 स
10अ   35 अ
11अ   36 ब
12अ   37 स
13 ब   38 स
14 अ   39 ब
15 ब   40 अ
16 ब   41 स
17 ब   42 ब
18 स   43 ब
19 द   44 स
20 द   45 ब
21 द   46 अ
22 स   47 अ
23 द   48 अ
24 द   49 स
25 ब   50 ब
  • hindi sahitya
  • hindi sahitya ka itihas
  • hindi sahitya objective question
  • hindi sahitya ka itihas objective question
  • hindi sahitya ka itihas mcq objective question
  • hindi objective question
  • hindi sahitya ke question
  • hindi sahitya bhaktikal ke question
  • hindi sahitya ke itihash ke question
  • hindi sahitya ke question paper
  • hindi sahitya question answer
  • hindi sahitya question and answers

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *