hindi literature pdf#NET/JRF 2019 HINDI FREE PDF NOTES

hindi literature pdf net jrf new pdf files and book free आप इस पेज का समय समय पर चेक  करते रहें क्योकि जल्द ही आपको net/jrf नए सिलेबस की सभी  पीडीएफ़ फ़ाइल निशुल्क  मिल जाएगी,आप इस लिंक को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें   हिन्दी साहित्य चैनल के सहयोगी अजीज मित्र डॉक्टर ब्रजभूषण जी (नौसैनिक) द्वारा […]

असाध्य वीणा अज्ञेय

दोस्तो आज की पोस्ट में हम अज्ञेय जी की चर्चित रचना असाध्य वीणा के बारे  जानेंगे असाध्य_वीणा : अज्ञेय प्रयोगवाद और नयी कविता के प्रवर्तक “अज्ञेय” जी ने सभी विधाओं में अपनी अदभुत प्रयोगात्मक प्रगति का परिचय दिया है अज्ञेय स्वभाव से ही विद्रोही थे उनकी यह विद्रोही भावना उनके द्वारा रचे साहित्य में भी […]

स्कूल व्याख्याता परीक्षा टेस्ट काव्यशास्त्र 1

                             हिन्दी साहित्य चैनल                                     स्कूल व्याख्याता परीक्षा 2019                                 […]

समास

समास की परिभाषा (Samas Ki Paribhasha) दोस्तो आज हम इस पोस्ट में समास को अच्छी तरह से उदाहरणों सहित अच्छे से समझेंगे  ’समास’ का अर्थ है – शब्दों को पास-पास बिठाना, जिससे कम शब्दों का प्रयोग करके अधिक अर्थ प्राप्त किया जा सके। ऐसा करने के लिए पदों में प्रयुक्त परसर्ग चिह्न हटा लिये जाते […]

मुहावरे

                     मुहावरे(idioms) दोस्तो आज महत्वपूर्ण मुहावरे के बारें मे बताएँगे जो हर exam में आते है   आसमान टूट पङना ⇒      विपत्ति का आना पेट में दाढ़ी होना ⇒        छोटी आयु में बुद्धिमान होना टोपी उछलना ⇒          अपमान करना दूध का […]

महादेवी वर्मा जीवन परिचय

महादेवी वर्मा जन्मकाल – 1907 ई. जन्मस्थान – फर्रुखाबाद (उत्तरप्रदेश) मृत्युकाल – 1987 ई. प्रमुख रचनाएँ – (क) काव्य संग्रह 1. नीहार-1930 ई. 2. रश्मि – 1932 ई. 3. नीरजा – 1935 ई. 4. सांध्यगीत -1936 ई. 5. दीपशिखा – 1942 ई. 6. सप्तपर्णा – 1960 ई. ट्रिकः नेहा रानी सादी सप्त प्रसिद्ध गद्य रचनाएँ […]

काव्य प्रयोजन काव्य शास्त्र

दोस्तो आज की पोस्ट में हम काव्यशास्त्र के महत्वपूर्ण विषय काव्य प्रयोजन के बारे में जानेंगे हिन्दी साहित्य के बेहतरीन वीडियो के लिए यहाँ क्लिक करें  काव्य प्रयोजन काव्य प्रयोजन का तात्पर्य है-’काव्य रचना का उद्देश्य’। काव्य किस उद्देश्य से लिखा जाता है और किस उद्देश्य से काव्य पढ़ा जाता है इसे दृष्टिगत रखकर काव्य […]

error: कॉपी करना मना है